Buxwah

कोरोना से पीड़ित कर्मचारियों का वेतन काटा तो होगी कार्यवाही


बांदा: नाम की ख्वाहिश नहीं, बस संक्रमितों और जरूरतमंदों की भूख मिटाना इस इंसान का मकसद

 कोरोना पीड़ित का वेतन काटा तो होगी कार्रवाई

ललितपुर। कोरोना की वजह से पीड़ित कर्मचारियों को उनके संस्थानों द्वारा यदि वेतन कटौती की जाती है तो ऐसे नियोजकों के खिलाफ जिला प्रशासन द्वारा दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी। कोरोना से पीड़ित कर्मचारियों को उनके नियोजकों द्वारा 28 दिन का भुगतान युक्त अवकाश भी देना होगा।

योगी जी! अफसर नाकाम, कार्रवाई धड़ाम, एक-एक लाख में बिक रहा रेमेडसिविर

झांसी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वालों पर एनएसए के तहत कार्रवाई करने का आदेश दिया है, मगर इसका किसी को कोई खौफ नहीं है। हाल ये है कि झांसी में तो रेमडेेसिविर इंजेक्शन एक-एक लाख रुपये में बिक रहा है। इंजेक्शन के नाम पर जनता के साथ लूट नहीं बल्कि डकैती की जा रही है। झांसी के बयान बहादुर अधिकारी एक भी कार्रवाई नहीं कर पाए हैं।

मतगणना स्थल के पास जाने पर मानाही

चित्रकूट। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए 2 मई को मतगणना होगी। इसके लिए जिले में धारा 144 लागू कर दी गई है। मतगणना स्थल के 200 मीटर के दायरे में प्रत्याशी के अलावा किसी को प्रवेश नहीं मिलेगा। इसके साथ ही आसपास भीड़ एकत्र करने पर कार्रवाई की जाएगी। कोई भी विजय जुलूस नहीं निकालेगा। सुरक्षा व्यवस्था के लिए पुलिस अधिकारी सहित पुलिस बल की तैनाती की जाएगी। 

उपार्जन केंद्रों पर पहुंचे एडीएम बिना मास्क लगाए, कर्मचारियों को समझाइश देते दिखे

अस्प्ताल गेट पर रात काट रहे तीमारदार

चित्रकूट। कोविड अस्पताल खोह सहित जिला अस्पताल में भर्ती मरीजों के तीमारदारों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा हैं। तमीरदारों को जगह न मिलने पर अस्पताल गेट पर रात गुजारनी पड़ रही हैं। खाने पीने की भी समस्याओं का भी सामना करना पड़ता है।

बारदाना पहुंचा और शुरू हो गई गेहूं खरीदी 

जालौन। गल्ला मंडी स्थित सरकारी क्रय केंद्रों पर 28 दिनों में 41 हजार क्विंटल गेहूं की खरीद हुई। पिछले दिनों केंद्रों पर बारदाना न होने की वजह से खरीद कम हुई। बुधवार को केंद्रों पर बारदाना पहुंचने के बाद गेहूं खरीद फिर शुरू हो गयी 

लोग खुद लागू करने लगे ‘लॉकडाउन’

जालौन। वैश्विक महामारी कोरोना के संक्रमण को लेकर लोग चिंतित होने लगे हैं एवं स्वयं ही बंदिशें लगाने लगे हैं। मंगलवार को गल्ला मंडी के व्यापारियों ने एक सप्ताह तक व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद करने की घोषणा की थी तो बुधवार को दस्तावेज लेखकों ने भी कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए पांच मई तक काम न करने की घोषणा की है

मतगणना स्थल पर प्रवेश के लिए करानी होगी कोविड-19 की जांच

सीमाएं सील, ड्रोन कैमरों से होगी निगरानी

बांदा। पंचायत चुनाव मतदान की सुरक्षा यूपी पुलिस के हवाले रहेगी। स्थानीय फोर्स के अलावा महोबा, हमीरपुर, चित्रकूट व कौशांबी से पुलिस फोर्स यहां पहुंच गया। अति संवेदनशील श्रेणी वाले मतदान केंद्रों में पीएसी तैनात रहेगी। कई कंपनियां पीएसी ने पूर्व संध्या पर मतदान केंद्रों में डेरा डाल दिया है। उधर, गर्मी और कोविड-19 महामारी के बीच पोलिंग पार्टियां के रवानगी स्थलों पर अव्यवस्थाओं की भरमार रही। मतदान कार्मिक अपनी ड्यूटी के लिए परेशान रहे। धूप से बचाव के लिए छोटा पंडाल लगाकर औपचारिकताएं निभाई गईं। अधिकांश मतदान कार्मिक धूप में या पेड़ों की छांव में जमीन पर बैठकर अपने काम निपटाते रहे।

सीमाएं सील, ड्रोन कैमरों से होगी निगरानी

बांदा। पंचायत चुनाव मतदान की सुरक्षा यूपी पुलिस के हवाले रहेगी। स्थानीय फोर्स के अलावा महोबा, हमीरपुर, चित्रकूट व कौशांबी से पुलिस फोर्स यहां पहुंच गया। अति संवेदनशील श्रेणी वाले मतदान केंद्रों में पीएसी तैनात रहेगी। कई कंपनियां पीएसी ने पूर्व संध्या पर मतदान केंद्रों में डेरा डाल दिया है। उधर, गर्मी और कोविड-19 महामारी के बीच पोलिंग पार्टियां के रवानगी स्थलों पर अव्यवस्थाओं की भरमार रही। मतदान कार्मिक अपनी ड्यूटी के लिए परेशान रहे। धूप से बचाव के लिए छोटा पंडाल लगाकर औपचारिकताएं निभाई गईं। अधिकांश मतदान कार्मिक धूप में या पेड़ों की छांव में जमीन पर बैठकर अपने काम निपटाते रहे।

डीएम-एसपी ने मतगणना स्थलों का निरीक्षण कर देखीं व्यवस्थाएं

महोबा। पंचायत चुनाव की मतगणना के लिए तैयारियां तेज हो गई हैं। मतगणना में महज तीन दिन का समय शेष है। बुधवार को जिलाधिकारी सत्येंद्र कुमार व पुलिस अधीक्षक अरुण कुमार श्रीवास्तव ने अफसरों के साथ मतगणना स्थलों का निरीक्षण कर व्यवस्थाएं देखीं। इस दौरान डीएम ने मतगणना स्थल पर बैरीकेडिंग कर आने-जाने के लिए अलग-अलग रास्ते बनाने के निर्देश दिए

सभी संभागीय मुख्यालयों में लगेंगे बड़े ऑक्सीजन प्लांट : मुख्यमंत्री चौहान

चिकित्सक से अभद्रता पर ठेकेदार समेत 30 लोगों पर रिपोर्ट दर्ज

श्रीनगर (महोबा)। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र श्रीनगर में बने कोविड अस्पताल में मंगलवार को डॉक्टर के साथ अभद्रता व हंगामा करने के मामले में पुलिस ने ठेकेदार समेत 30 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है जबकि बाकी की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है।

आपका Bundelkhand Troopel टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है। यहां क्लिक करके आप सब्सक्राइब कर सकते हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ