Buxwah

बड़े भाई ने छोटे के सिर में मारी लाठी, पुलिस ने आरोपित को 3 घंटे में किया गिरफ्तार

 


पुलिस ने आरोपित को 3 घंटे में किया गिरफ्तार निवाड़ी(नईदुनिया प्रतिनधि)। पुलिस थाना कोतवाली के अंतर्गत ग्राम पंचायत झिगोरा के धर्मपुरा गांव में दो भाइयों के झगड़े में एक भाई की मौत हो गई। पुलिस ने बड़े भाई के विरुद्ध हत्या का मामला दर्ज कर महज 3 घंटे में ही जंगल से गिरफ्तार कर लिया। इस घटना के बाद मौके पर एफएसएल एवं फिंगर प्रिंट

निवाड़ी(नईदुनिया प्रतिनधि)। पुलिस थाना कोतवाली के अंतर्गत ग्राम पंचायत झिगोरा के धर्मपुरा गांव में दो भाइयों के झगड़े में एक भाई की मौत हो गई। पुलिस ने बड़े भाई के विरुद्ध हत्या का मामला दर्ज कर महज 3 घंटे में ही जंगल से गिरफ्तार कर लिया। इस घटना के बाद मौके पर एफएसएल एवं फिंगर प्रिंट टीम ने पहुंचकर मौका मुआयना किया।

एसडीओ पुलिस संतोष पटेल ने बताया कि कोतवाली निवाड़ी थाना अंतर्गत ग्राम धर्मपुरा में दो भाई एक ही मकान में रहते थे जो 28 सितंबर की रात्रि में मृतक ब्रजकिशोर रैकवार अपनी पत्नी रचना रैकवार के साथ आंगन में लेटा था की इसी दौरान बड़े भाई ओम प्रकाश रैकवार छत पर पहुंचे और उसकी बहू पर नजर डाल दी तो छोटे भाई

बृजकिशोर ने देख लिया इतने में ही बृजकिशोर रैकवार और बड़े भाई में कहासुनी हो गई, जिस पर मृतक के बड़े भाई ओमप्रकाश उर्फ प्रकाश रैकवार ने बृजकिशोर के सिर में डंडा मार दिया। जिससे उसे गंभीर चोटें आई। घायल अवस्था में मृतक बृजकिशोर रैकवार पुत्र भगवानदास रैकवार को झांसी मेडिकल कॉलेज ले जाया गया। गंभीर हालत होने पर ग्वालियर के लिए रेफर कर दिया ग्वालियर जाते समय रास्ते में ही बृजकिशोर रैकवार की मौत हो गई। मृतक बृजकिशोर रैकवार की पत्नी रचना रैकवार ने पुलिस थाना कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई, जिस पर पुलिस ने मृतक के बड़े भाई ओमप्रकाश उर्फ प्रकाश रैकवार पुत्र भगवानदास रैकवार के विरुद्ध धारा 302 हत्या का प्रकरण पंजीबद्ध कर लिया। घटना की सूचना मिलते ही एसडीओ पुलिस संतोष पटेल एफएसएल टीम एवं फिंगर टीम भी मौके पर पहुंची और घटनास्थल का बारीकी से निरीक्षण किया। एसडीओपी संतोष पटेल ने बताया कि इस घटना के बाद आरोपित युवक मौके से भाग निकला, जिसका सुराग लगते ही पुलिस ने घेराबंदी कर गांव के पास जंगल से ही 3 घंटे के अंदर आरोपित युवक गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की।

मृतक की पत्नी पर थी बड़े भाई की नजर

एसडीओ पुलिस संतोष पटेल ने बताया कि जब मृतक अपनी पत्नी के साथ आंगन में लेटा हुआ था तभी उसकी नजर उसकी पत्नी पर पहुंच गई। उन्होंने बताया कि इस मामले की जांच की जा रही है, वहीं मृतका ने बताया कि उसको गलत निगाह से देखना उसके पति को काफी नागवार गुजरा। जिसके चलते ही मृतक के ब़ड़े भाई ने यह कदम उठाया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ