Buxwah

रंग लाई मेहनत, माध्यमिक शाला लड़वारी के प्रधानाध्यापक की


बल्देवगढ़ तहसील के अहार हायर सेकेंडरी स्कूल संकुल केंद्र अंतर्गत माध्यमिक शाला लड़वारी में राज्य शासन के निर्देशानुसार मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम अंतर्गत विकासखंड की चिन्हित शालाओं में मां की बगिया लगाने के निर्देश दिए गए थे। बीआरसी आरएल पाराशर ने बताया कि राज्य शासन की मंशा के अनुरूप मां की बगिया का निर्माण कराया गया, जिसमें शासन की संकल्पना थी कि विद्यालय में अध्ययनरत बच्चों को मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम अंतर्गत विद्यालय से ही सब्जी का उत्पादन हो। बच्चों को ताजी हरी सब्जी बगिया से उत्पादित हो एव उत्पादित होने वाली इन सब्जियों में किसी प्रकार का रासायनिक खाद या कीटनाशक का उपयोग नहीं किया गया हो, ऐसी सभी प्रकार की पौष्टिक हरी सब्जियां बच्चों को मध्यान्ह भोजन में शामिल की जाए जिसके लिए शिक्षकों एवं अभिभावकों से अपेक्षित सहयोग लिया जाए।

माध्यमिक शाला लड़वारी के प्रधानाध्यापक श्यामबिहारी पांडे के प्रयास के बाद मां की बगिया का निर्माण करते हुए उसे साकार रूप दिया। जिसका परिणाम आज सामने दिख रहा है। बगिया में बिना किसी रासायनिक खाद का उपयोग किए हुए देशी ऑर्गेनिक खाद डालकर कई प्रकार की सब्जियों का उत्पादन शुरू हो गया है। श्याम बिहारी पांडे की मेहनत रंग ला रही है। आज उन्होंने मां की बगिया से लगभग 3 किलोग्राम भिंडी, एक किलोग्राम बरबटी, मिर्ची, गिलकी और भी कई सब्जियां उत्पादित होने लगी है जिन्हें बच्चों को वितरित कर दिया गया है उनके द्वारा बहुत सराहनीय कार्य किया जा रहा है। बगीचे में सब्जी के अतिरिक्त कई प्रकार के औषधीय एवं फूल वाले पौधों को पूरे परिसर में रोपण किया गया है जो विद्यालय की अलग ही अनुपम छटा बिखेर रहे हैं। यह सब उनकी कड़ी मेहनत समर्पण का परिणाम है इनके द्वारा किए जाने वाले अन्य उत्कृष्ट कार्य भी जैसे स्वच्छता, खेलकूद, एकेडमिक गतिविधियां संपन्ना की जा रही है जो काफी प्रशंसनीय है । इनका प्रकृति के प्रति प्रेम, विद्यालय के प्रति समर्पण, बच्चों के सर्वांगीण विकास जैसे उत्कृष्ट कार्यों के लिए वह बधाई के पात्र हैं। इनके द्वारा विद्यालय को मॉडल के रूप में तैयार किया गया है, जिसकी क्षेत्र में प्रशंसा होती है जिसका अन्य विद्यालयों को एक बार अवलोकन अवश्य करते हुए अनुसरण अवश्य करना चाहिए।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ