Buxwah

ललितपुर-फांसी लगाकर युवक ने दी जान


थाना महरौनी के अंतर्गत ग्राम अथाईपुरा में नाना के यहां एक वर्ष पहले पढ़ाई करने के लिए आए किशोर ने फांसी लगाकर जान दे दी। इससे पहले उसने यू ट्यूब पर फांसी लगाने के बेहतर तरीके की जानकारी के लिए सर्चिंग की थी।

मध्य प्रदेश के जिला टीकमगढ़ के थाना पलेरा के अंतर्गत ग्राम बेड़री निवासी अंशुमन (16) पुत्र उदयपाल सिंह महरौनी के मोहल्ला अथाईपुरा निवासी अपने नाना रामकृपाल सिंह के यहां करीब एक वर्ष पहले आया था। वह यहां रुककर दसवीं कक्षा की पढ़ाई कर रहा था। शनिवार की रात में जब उसके नाना व अन्य परिजन सोने चले गए, तब अंशुमन घर की छत पर गया और वहां उसने छज्जे पर लगे कुंदे पर दुपट्टे से फांसी लगाकर जान दे दी। सुबह जब परिजनों को वह काफी देर तक दिखाई नहीं दिया तो परिजन छत पर पहुंचे। वहां उसका शव फांसी के फंदे पर लटका मिला।

परिजनों ने तुरंत इसकी जानकारी महरौनी पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। परिजनों ने बताया कि मृतक का बड़ा भाई अनिरुद्ध भी पहले नाना के यहां के रहकर पढ़ाई कर रहा था। अब वह बारहवीं पास करके कोटा में आगे की तैयारी कर रहा है। इसी वजह से परिजनों ने अंशुमन को भी नाना के यहां पढ़ाई के लिए भेज दिया था। मृतक दो भाई व एक बहन में सबसे छोटा था। परिजनों के अनुसार अंशुमन ने मरने से पहले यू ट्यूब पर फांसी लगाने के सबसे बेहतर तरीके के बारे में सर्चिंग की थी। यह जानकारी उसके मोबाइल की हिस्ट्री देखने पर मिली है।

छत पर एक जगह टूटा मिला गमला

इस मामले में परिजन और पुलिस फिलहाल किशोर की मौत के कारणों से अनभिज्ञता जता रही है। उधर, छत पर घटनास्थल से कुछ दूर दूसरी जगह एक गमला टूटा पड़ा मिला है। इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि उसने दूसरी जगह भी फांसी लगाने का प्रयास किया, लेकिन वहां सफल नहीं होने पर उससे हटकर छज्जे पर फांसी लगा ली।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ