Buxwah

दो भाइयों की हत्या: दोस्त ने पहले छोटे भाई को मार डाला फिर बड़े भाई की भी हत्या की


झांसी की काशीराम कॉलोनी में दोस्त ने दो भाइयों की हत्या की थी। सोमवार को पहले उसने पहली मंजिल पर छोटे भाई को हथौड़ी से हमला कर मार डाला। फिर दूसरी मंजिल पर जाकर कमरे में बड़े भाई की हत्या की। इसके बाद दोनों कमरों के ताले लगाकर फरार हो गए।

मंगलवार को पड़ोसी महिला ने शव देखकर पुलिस को सूचना दी। तब पुलिस कमरे से छोटे भाई का शव लेकर चली गई। बताया जा रहा है कि आरोपी के पकड़े जाने पर डबल मर्डर का खुलासा हुआ। तब बुधवार को पुलिस दोबारा मौके पर पहुंची। उसने कमरे का ताला तोड़कर बड़े भाई का शव बरामद किया। मौके से हथौड़ी भी बरामद किया। पुलिस ने हत्या का केस दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

काशीराम कॉलोनी निवासी ओमबाबू कुशवाहा (52) दूसरी मंजिल पर फ्लैट नंबर 32/12 में रहता था। उसका छोटा भाई दिनेश (45) पहली मंजिल पर प्लैट नंबर 32/8 में रहता था। दोनों मजदूरी करते थे। उनके घर पर दरीगरान निवासी महेंद्र खटीक का आना-जाना था। महेंद्र की दोनों भाइयों से दोस्ती थी।

एसएसपी शिवहरि मीना ने बताया कि सोमवार को कमरे में महेंद्र और दिनेश का शराब पीने के दौरान झगड़ा हो गया। इस पर महेंद्र ने दिनेश के सिर पर कांच मार दिया। इसके पास में पड़ी हथौड़ी से सिर पर वार कर हत्या कर दी।

इस दौरान बड़ा भाई ओमबाबू ऊपर कमरे में सो रहा था। आरोपी हथौड़ी लेकर ऊपर कमरे में गया। सिर में वार करके उसकी भी हत्या कर दी। हत्या के बाद आरोपी दोनों कमरे में ताला लगाकर भाग गया। पुलिस ने बुधवार को आरोपी को गिरफ्तार कर हथौड़ी बरामद कर ली। आरोपी पर पहले भी हत्या का केस दर्ज है।

पड़ोसियों ने बताया कि फ्लैट मां कलावती को अलाट हुआ था। ओमबाबू और दिनेश अविवाहित थे। जबकि छोटे भाई अनिल की शादी रानी से हुई थी। 28 जनवरी को अनिल की भी मौत हो गई थी। जबकि कलावती का दो साल पहले निधन हो गया था। पिता राजाराम की काफी समय पहले मौत हो गई थी। अनिल की पत्नी रानी की तहरीर पर सीपरी बाजार थाना पुलिस ने हत्या का केस दर्ज किया है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ