Buxwah

ग्रामीणों ने रुकवाया बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का काम


 बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे पर अंडरपास और सर्विस रोड बनाने की मांग पूरी न होने पर गुस्साए ग्रामीणों ने निर्माण कार्य रुकवा दिया। वाहनों को रोककर हाईवे पर धरने पर बैठ गए। ग्रामीणों ने प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। हंगामे की जानकारी पर पहुंची पुलिस और तहसील प्रशासन के अधिकारी उन्हें समझाते रहे। शाम को ग्रामीणों को आश्वासन देकर घर भेजा जा सका।

जिले में बुंदेलखंड एक्सप्रेस का 50 किलोमीटर हिस्सा गुजरता है। इसमें कई जगह निर्माण के दौरान अंडरपास व सर्विस रोड का निर्माण कराया गया है। मिहौली से यमुना नदी तक सर्विस रोड और अस्ता से नौरी राजपुर गांव के संर्पक के लिए अंडरपास बनाने की मांग ग्रामीण काफी समय से कर रहे हैं। ग्रामीणों ने अपर मुख्य सचिव से लेकर जिला प्रशासन और जनप्रतिनिधियों को ज्ञापन भी दिए।

इधर, मांग पूरी न होती देख गुरुवार को नौरी, अस्ता और आसपास गांव के करीब दो सौ से अधिक ग्रामीण नौरी गांव के सामने निर्माणाधीन हाईवे पर जा पहुंचे और निर्माण कार्य रुकवा दिया। सड़क पर ही धरने पर बैठ गए। निर्माण कार्य में लगे कई वाहनों को रोक दिया। हंगामे और वाहनों को रोकने की सूचना मिलते ही अयाना थाना प्रभारी श्रीकेश भारती पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे।

पुलिस ने समझाने की कोशिश की, लेकिन ग्रामीण मांग पूरी न होने तक निर्माण कार्य शुरू न होने देने की बात कहते रहे। इसके बाद एसडीएम औरैया भी मौके पर जा पहुंचे। एसडीएम ने भी करीब दो घंटे तक लोगों को समझाया। इसके बाद शाम को ग्रामीण आश्वासन पर माने।

एसडीएम औरैया मनोज सिंह ने बताया कि ग्रामीणों ने यूपीडा के प्रोजेक्ट मैनेजर के नाम एक ज्ञापन दिया है। ग्रामीणों द्वारा की जा रही मांग के बाबत यूपीडा के अधिकारियों को जानकारी दी गई है। ग्रामीणों को समझाकर घर भेजा गया है।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ