Buxwah

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने डॉ. राधाकृष्णन की पुण्य-तिथि पर किया नमन

 मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने भारत के पूर्व राष्ट्रपति, प्रख्यात शिक्षाविद और दार्शनिक डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन की पुण्य-तिथि पर उन्हें नमन किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निवास कार्यालय स्थित सभागार में उनके चित्र पर माल्यार्पण कर पुष्पांजलि अर्पित की।



डॉ. राधाकृष्णन का जन्मदिन 5 सितंबर को भारत में शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है। उन्होंने अपने जीवन के 40 वर्ष शिक्षक के रूप में बिताए। शिक्षा और राजनीति में उत्कृष्ट योगदान देने के लिए डॉ. राधाकृष्णन को देश का सर्वोच्च अलंकरण “भारत रत्न” प्रदान किया गया। वे सामाजिक बुराइयों को खत्म करने के लिए शिक्षा को ही कारगर मानते थे। डॉ. राधाकृष्णन ने अपने लेख और भाषणों के माध्यम से विश्व को भारतीय दर्शन शास्त्र से परिचित कराया। वे स्वतंत्र भारत के पहले उप राष्ट्रपति और दूसरे राष्ट्रपति रहे।  डॉ. राधाकृष्णन ने 17 अप्रैल, 1975 को देह त्याग किया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ