Buxwah

स्मार्ट सिटी तैयार कर रही प्लान:महाकाल मंदिर से शिप्रा नदी तक जाने के लिए बनेगा सीधा रास्ता, दर्शनार्थियों को आवागमन में होगी सुविधा

 जिस तरह काशी में बाबा विश्वनाथ मंदिर को गंगा नदी से जोड़ा है, उसी तरह महाकाल मंदिर से शिप्रा नदी तक जाने के लिए सीधा मार्ग बनेगा। महाकालेश्वर मंदिर में बढ़ती यात्रियों की भीड़ को देखते महाकाल से हरसिद्धि होकर रामघाट जाने के लिए यह मार्ग बनाया जाएगा। इसके लिए स्मार्ट सिटी प्लान तैयार रही है।



ज्योतिर्लिंग महाकालेश्वर मंदिर सबसे बड़ा धार्मिक दर्शनीय स्थल बनकर उभरा है। कोरोना के बाद देशभर से श्रद्धालु आ रहे हैं। इसके लिए प्रशासन को आवागमन के लिए नए रास्ते और अन्य योजनाएं बनाना पड़ रही है। महाकालेश्वर मंदिर क्षेत्र में आवागमन सुविधा बढ़ाने के लिए नए मार्गों के निर्माण के लिए सरकारी जमीनों को खोजकर वहां रास्ते और पार्किंग की व्यवस्था के लिए प्लान हो रहा है।

कलेक्टर आशीष सिंह के अनुसार महाकालेश्वर मंदिर से रामघाट जाने के लिए हरसिद्धि मंदिर के पीछे एक और नया मार्ग बनाया जाएगा। यह मार्ग बगीची से होकर बनेगा। महाकाल से हरसिद्धि के पीछे वाले रास्ते से श्रद्धालु रामघाट की ओर जाते हैं। यहां हरसिद्धि के पीछे टर्न पर पुरानी बगीची है। इस बगीची की जमीन सरकारी निकली है।

अभी यात्रियों को टर्न लेकर जाना पड़ रहा जो बाहरी यात्री महाकाल मंदिर आते हैं, वे रामघाट शिप्रा स्नान के लिए भी जाते हैं। पर्व-त्योहारों पर रामघाट पर ज्यादा भीड़ होती है। स्नान पर्वों पर आवागमन में दिक्कत आती है। महाकाल से हरसिद्धि के पीछे से होकर रामघाट जाने के लिए यात्रियों को झालरिया मठ के सामने से टर्न लेकर जाना पड़ता है। टर्न पर पुरानी बगीची है। इसमें सरकारी जमीन निकली है। हरसिद्धि के पास आ रहे मार्ग को बगीची से होकर सीधे रामघाट की ओर खोला जाएगा। स्मार्ट सिटी इस क्षेत्र में नए मार्गों पर काम कर रही है, इसलिए स्मार्ट सिटी को इसकी भी जिम्मेदारी दी है।

सीधे रामघाट जाने के लिए सुविधा होगी

बगीची के बीच से मार्ग बनने से यात्रियों को हरसिद्धि के पास से होकर सीधे रामघाट जाने का नया रास्ता मिल जाएगा। उन्हें झलारिया मठ के सामने टर्न तक जाने की जरूरत नहीं होगी।

स्नान पर्वों पर यात्रियों हरसिद्धि पाल की ओर से रामघाट पर प्रवेश करा सकते हैं तथा इस नए मार्ग से उनकी वापसी हो सकेगी। इससे रामघाट जाने और निकलने के लिए अलग-अलग रास्ते हो जाएंगे।

महाकाल मंदिर के आसपास बनेगा रिंग रोड

माधव सेवा न्यास पार्किंग से बेगमबाग मेन रोड।

महाकाल थाने से बड़ा गणेश मंदिर के पास गली तक।

जयसिंहपुरा त्रिवेणी संग्रहालय के सामने से चारधाम के सामने।

चारधाम मार्ग से नृसिंहघाट रोड तक नया मार्ग।

बड़ा गणेश से हरसिद्धि पाल की तरफ।

बेगमबाग से महाकाल कॉरिडोर तक विस्तार (निर्माणाधीन)।

बड़े रुद्रसागर पर महाकाल निर्गम द्वार से हरसिद्धि रोड तक पुल।

चारों ओर पार्किंग स्थलों का निर्माण किया जाएगा

त्रिवेणी संग्रहालय के सामने (निर्माणाधीन)।

माधव सेवा न्यास के पास प्रस्तावित नीलकंठ उद्यान में।

नृसिंहघाट के सामने अधिग्रहीत गार्डन की जमीन पर।

कर्क राज मंदिर मार्ग पर शासकीय जमीन पर प्रस्तावित

वर्तमान में हरसिद्धि रोड पर पार्किंग सुविधा उपलब्ध है।

महाराजवाड़ा परिसर में ही पार्किंग की जाती है।


साभार- भास्कर


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ