Buxwah

MP में पुलिसकर्मियों की छुट्टी रद्द: IG इंटेलिजेंस ने सभी एसपी को भेजा आदेश, प्रशासन ने 52 मकान-दुकान गिराए

 सार

मध्य प्रदेश में खरगोन और बड़वानी में रामनवमी के जुलूस पर पथराव की घटना के बाद प्रदेश में सभी पुलिसकर्मियों की छुट्टी रद्द कर दी गई है। इस संबंध में कानून व्यवस्था एवं सुरक्षा पुलिस महानिरीक्षक की तरफ से सभी जिलों को आदेश जारी किए गए है। खरगोन और बड़वानी में प्रशासन ने दंगाईयों के 52 मकान-दुकान गिराने की कार्रवाई की। 



मध्य प्रदेश में खरगोन और बड़वानी में रामनवमी के जुलूस पर पथराव की घटना के बाद प्रदेश में सभी पुलिसकर्मियों की छुट्टी रद्द कर दी गई है। इस संबंध में कानून व्यवस्था एवं सुरक्षा पुलिस महानिरीक्षक की तरफ से सभी जिलों को आदेश जारी किए गए है। खरगोन और बड़वानी में प्रशासन ने दंगाईयों के 52 मकान-दुकान गिराने की कार्रवाई की। 

कानून व्यवस्था एवं सुरक्षा मध्य प्रदेश पुलिस महानिरीक्षक की तरफ से भोपाल-इंदौर पुलिस आयुक्त, सभी जिलों के पुलिस अधीक्षक, समस्त सेनानी विसबल और सभी रेल पुलिस अधीक्षक को सोमवार को आदेश जारी किए गए। आदेश में आगामी आने वाले त्यौहारों डॉ. अंबेडकर जयंती, बैसाखी, महावीर जयंती, गुड फ्राई डे, हनुमान जयंती, ईस्टर संडे, जमातुलबिदा, परशुराम जयंती/ अक्षय तृतीया/ ईद उल फितर में सांप्रदायिक सौहार्द एवं कानून व्यवस्था को देखते हुए पुलिस कर्मियों को अनावश्यक अवकाश न देने के लिए कहा गया है। साथ ही इस अवधि में सभी अधिकारी और कर्मचारियों को मुख्यालय नहीं छोड़ने को कहा गया है। 

पुलिस महानिरीक्षक की तरफ से जारी आदेश के अनुसार अपरिहार्य परिस्थतियों में आवश्यकता होने पर संबंधित पुलिस अधीक्षक/ जोनल पुलिस महानिरीक्षक सीमित अवधि के लिए अवकाश स्वीकृत कर सकेंगे। साथ ही वरिष्ठ अधिकारियों के लिए पुलिस महानिदेशक के अनुमोदन पर अवकाश स्वीकृत हो सकेंगे।

 बता दें रविवार रामनवमी के पर्व पर खरगोन और बड़वानी में जुलूस में पथराव की घटना हो गई। इसके साथ ही खरगोन में आगजनी भी की गई। इसमें कई लोग घायल हो गए। खरगोन के कई इलाकों में कर्फ्यू लगाया गया है। इसके बाद प्रदेश सरकार ने दंगाईयों को चिन्हित कर कार्रवाई भी शुरू की है। 

 गृह विभाग के अनुसार सेंधवा में रामनवमी के जुलूस पर रविवार को पथराव की घटना में बड़वानी पुलिस ने 11 एफआईआर दर्ज की। 7 दंगाईयों को हिरासत में लिया गया है। सोमवार रात तक 7 लोगों के अवैध मकान तोड़े गए है।

 वहीं, खरगोन में 5 इलाकों में सोमवार रात तक 16 मकान और 29 दुकानों को अतिक्रमण से मुक्त किया गया। इसमें छोटी मोहन टॉकीज इलाके में 4 मकान और 3 दुकान, खसखसवाड़ी में 12 मकान और 10 दुकान, गणेश मंदिर के पास 1 दुकान, औरंगपुरा से 3 दुकान और तालाब चौक से 12 दुकान का अतिक्रमण हटाया गया। इससे पहले गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा था कि जिस जिस घर से पत्थर आए, उनको पत्थर का ढेर बना दिया जाएगा। वहीं, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी बयान जारी कर दंगाईयों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने की बात कही थी। 

 

साभार- अमर उजाला


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ