Buxwah

महोबा महोबा : जिला सहायक सूचना अधिकारी की टिप्पणी पर बवाल, सर्व समाज की आंदोलन की चेतावनी

 महोबा

महोबा : जिला सहायक सूचना अधिकारी की टिप्पणी पर बवाल, सर्व समाज की आंदोलन की चेतावनी

जिले महोबा के सहायक सूचना अधिकारी के द्वारा भगवान परशुराम पर अमर्यादित टिप्पणी के 4 दिन बीत जाने पर..



जिले महोबा के सहायक सूचना अधिकारी के द्वारा भगवान परशुराम पर अमर्यादित टिप्पणी के 4 दिन बीत जाने पर भी अभी तक जिला प्रशासन द्वारा कोई भी कार्यवाही अमल में नहीं लाई गयी, न ही लिखित तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज किया गया, जिसको लेकर पूरे जनपद के सर्वसमाज में भारी क्रोध व्याप्त है एवं उनके द्वारा एक आंदोलन की रणनीति इस संबंध में बनाने की बात की जा रही है । यदि आगामी बुधवार तक जिला सहायक सूचना अधिकारी सतीश कुमार यादव पर कार्रवाई नहीं होती तो तहसील, ब्लाक, जिला स्तर पर आंदोलन किया जाएगा ।

गौरतलब है कि दिनांक 3 मई 2022 को भगवान परशुराम जन्मोत्सव के पावन दिवस पर जहां एक और सभी जगह भगवान परशुराम की जयंती बड़े ही धूमधाम से मनाई जा रही थी वही महोबा जिले के सहायक सूचना अधिकारी सतीश कुमार यादव के द्वारा अपनी घृणित मानसिकता का परिचय देते हुए अपनी फेसबुक पोस्ट पर एवं व्हाट्सएप स्टेटस पर भगवान परशुराम के संबंध में अमर्यादित टिप्पणी करते हुए उन्हें महिलाओं बच्चों का हत्यारा बताते हुए एक आपत्तिजनक पोस्ट डाली गई पोस्ट के वायरल होते ही जिले में सभी विप्र जनों, बुद्धिजीवी वर्गों सर्वसमाज में क्रोध व्याप्त हो गया एवं जिले की सामाजिक सौहार्द के बिगड़ने की स्थिति उत्पन्न हो गई, उसी दिन महोबा जिले में नगर पालिका परिषद के सौजन्य से पुराने प्राइवेट बस स्टैंड पर भगवान परशुराम की प्रतिमा का अनावरण भी विधान परिषद सदस्य जिला अध्यक्ष भारतीय जनता जितेंद्र सिंह सेंगर के द्वारा किया जाना भी निश्चित था।

सतीश कुमार यादव की पोस्ट के बाद शहर में प्रभु परशुराम के संबंध में अन्य व्यक्तियों द्वारा अनावश्यक टिप्पणी की जिस बातों का श्रेय सतीश कुमार यादव की अमर्यादित पोस्ट को ही दिया जाना चाहिए, शहर के बिगड़ते हुए माहौल को सामाजिक लोगों ने किसी तरह समझा-बुझाकर शांत कराया एवं उच्च अधिकारियों से मिल कार्यवाही कराने की बात भी कही जिस के संबंध में एक पत्र जिला अधिकारी महोदय को जिला सूचना अधिकारी पर कार्यवाही के आशय से  उसी रात्रि 10:30 पर दिया गया एवं एक लिखित तहरीर थाना प्रभारी कोतवाली महोबा को भी सुसंगत धाराओं में मामला दर्ज करने के लिए दी गई  प्रार्थना पत्र देने के उपरांत महोबा जिला प्रशासन की तरफ से  रात्रि 1 बजे के लगभग अपर जिला अधिकारी अपर पुलिस अधीक्षक की एक कमेटी बनाकर सहायक सूचना अधिकारी से संबंधित मामले की जांच 3 दिनों के अंदर कर कार्यवाही की बात कही गई।

इन 3 दिनों में महोबा जिले की तहसील ब्लॉक एवं जिला स्तर पर पत्रकार संगठनों, विप्र जनों, सर्वसमाज के प्रतिनिधियों द्वारा भी इस प्रकरण को लेकर जिला अधिकारी पुलिस अधीक्षक एवं अन्य अधिकारियों से ज्ञापन के माध्यम से कार्यवाही हेतु अनुरोध किया गया लेकिन 3 दिन बीत जाने के बाद भी अभी तक जिला प्रशासन द्वारा कोई भी कार्यवाही उक्त प्रकरण में संबंधित अधिकारी पर नहीं की गई नाही किसी प्रकार की जांच से अवगत कराया गया जिसको देखते हुए जिले के बुद्धिजीवी वर्ग में आज एक बैठक कर फैसला लिया कि यदि आगामी बुधवार तक जिला प्रशासन सहायक सूचना अधिकारी सतीश कुमार यादव पर उनके द्वारा किए गए अमर्यादित पोस्ट के संबंध में कोई कार्यवाही अमल में नहीं लाता तो एक आंदोलन महोबा जिले में तहसील एवं ब्लॉक लेवल होगा, जिसकी जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होगी ।



साभार- बुंदेलखंड न्यूज़ 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ